Gathered Political

देश के 9 राज्यों में बाढ़ ने मचाया कोहराम, केरल में 72, कर्नाटक में 40 की मौत

देश के करीब 9 राज्यों में हो रही बारिश के चलते  अब तक 200 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं. सैंकड़ों लोग लापता है. केरल से कर्नाटक तक और गुरजात से महाराष्ट्र तक कुदरत ने कोहराम मचा रखा है. मूसलाधार बारिश की वजह से दक्षिण भारत डूब रहा है, जबकि पश्चिमी राज्यों में भी चीखपुकार मची हुई है.

केरल में मूसलाधार बारिश का कहर अब भी जारी है. बाढ़, भूस्खलन और और संबंधी घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर 72 हो गई है. प्रदेश के 2.27 लाख से ज्यादा लोग राहत शिविरों में पनाह लेने को मजबूर है. आधिकारिकयों के मुताबिक रविवार को 7 शव और मिलने से मृतकों की संख्या 67 हो गई है.

वहीं कर्नाटक में भी मौत का आंकड़ा 40 तक पहुंच गया है. बेलगावी में बाढ़ ने सबसे ज्यादा तबाही मचाई है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बाढ़ प्रभावित कर्नाटक के इलाकों का हवाई दौरा किया. साथ ही उन्होंने महाराष्ट्र के कई इलाकों का भी जायजा लिया. महाराष्ट्र में 760 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं. बाढ़ के कारण 200 से ज्यादा सड़क औऱ 90 ब्रिज बंद कर दिए गए हैं. राहत और बचाव के लिए 226 नौकाओं और 105 रेसक्यू टीम को लगाया गया है. अब तक पांच लाख लोगों को बाढ़ प्रभावित इलाकों से निकालकर महफूस जगहों पर पहुंचाया जा चुका है.

गुजरात में नर्मदा पर बना गरुड़ेश्वर बांध भर चुका है उससे छोड़ा जा रहा पानी निचले इलाकों में तबाही मचा रहा है, गुजरात के कई हिस्सों में भारी बारीश हो रही है. जिससे बारिश जनित घटनाओं में मरने वालों की संख्या 31 हो गई है.केरल और कर्नाटक के अलावा बाढ़ से उत्तराखंड में 26 और गुजरात में 24 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा उत्तराखंड, राजस्थान और हिमाचल में बारिश और बाढ़ का कहर जारी है. सेना,नौसेना और वायुसेना लगातार जिंदगी बचाने में जुटी हैं.

देश में इस बार मॉनसून मेहरबान है. बारिश की वजह से वजह से कई जगह बाढ़ की आफत आ गई है. बहरहाल मॉनसून की बारिश सामान्य के मुकाबले 101 प्रतिशत ज्यादा हुई है.

Follow