Criticles Observed

नए भारत का नया ट्रैफिक नियम, सैलरी से महंगा हुआ चालान, क्या लेना पड़ेगा लोन?

देश भर में नए मोटर व्हीकल एक्ट को लागू किए जाने के बाद से सैकड़ों रुपए के चालान अब हजारों में तब्दील हो गए हैं. ट्रैफिक के जिन नियमों के उल्लंघन पर कभी सैकड़ों के चालान कटते थे, अब उन गलतियों पर लोगों को हजारों रुपए चुकाने पड़ रहे हैं. मोटर एक्ट में हुए संशोधन के बाद से अब ट्रैफिक नियमों का उल्लघंन करने पर 10 गुना ज्यादा जुर्माना लगेगा. वहीं राजस्थान और बंगाल को छोड़कर पूरे भारत में ये कानून लागू हो गया है.

इस कानून के बाद बाइक और स्कूटी चालकों की स्थिति तो ये है कि कई मामलों में उनके वाहन से ज्यादा चालान की कीमत है. ऐसे ही दो मामले मंगलवार को गुंडगांव में देखने को मिले. जब स्कूटी चालकों के 23 हजार और 24 हजार रुपए के चालान काट दिए गए. वहीं ऑटो चालक का 32 हजार रुपए का चालान कट गया. लेकिन ताजुब की बात ये है कि नियम तोड़ने पर जब बाइक सवार पर जुर्माना लगता है तो वे कहता है कि-..इतनी तो साहब मेरी सैलरी नहीं हैं, जितना आप चालान काट रहे हो.

अब मुद्दे कि बात ये है कि केंद्र सरकार की ओर से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर कई गुना जुर्माना लगाया गया है, वो कहीं साउथ इंडिया की एक मूवी ”भारत अने नेनू ”नाम से प्रेरित होकर तो नहीं किया. इस मूवी में सीएम का किरदार निभाने वाले अभिनेता महेश बाबू शहर में ट्रैफिक की भारी समस्या आने पर कई गुना जुर्माना लगाते है.

इसी कारण आज कल हम बहुत परेशान हैं. तभी पाकिस्तान को भी कुछ कहने का हमारे पास वक्त नहीं हैं, क्योंकि ट्रैफिक के नियमों ने सारा ध्यान ले लिया.

– अब बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर 500 रुपए की जगह 5 हजार रुपए का जुर्माना देना होगा. बेचारा कोई इंसान बीवी से लड़ता-लड़ता या फिर बॉस की डांट से बचने के लिए जल्दबाजी के चक्कर में लाइसेंस घर भूल आए तो उसकी तो शामत आएगी, क्योंकि 5000 हजार तो देना ही पड़ेगा.

– अगर कोई नाबालिग गाड़ी चलाता है तो उसे 10 हजार रुपए देना होगा. 10 हजार तो वो नाबालिग दे देगा, लेकिन उसके बाद उसके घर वाले उस बेचारे को 10 हजार जूते जरूर मारेंगे. खबरदार अगली बार कार लेकर गया तो.लेकिन वो किसी दोस्त की गाड़ी को फंसवाए बिना मानेंगा नही.

– बिना हेलमेट गाडी चलाने पर 500 रुपए की बजाए 1 हजार रुपए का जुर्माना वसुला जाएगा. अब उन लोगों की खैर नहीं, जो कहते हैं कि हमें कौन पकड़ेगा, फोन पर बात करवा देंगे. अब तो आपको 1000 रुपए देने ही होंगे.

– अब सीट बेल्ट न लगाने पर 1 हजार का चालान होगा, पहले ये 100 रुपए का होता था.

– शराब पीकर गाड़ी चलाने पर पहले 500 रुपए का चालान होता था, वहीं चालान अब 10 हजार रुपए का कर दिया गया है. अब वो लोग बच कर रहें जो दारू पीने के बाद कहते थे कि गाड़ी में चलाऊंगा.

– गाड़ी चलाते वक्त आपका फोन आगया तो, अब उठाना काफी भारी पड़ सकता है. क्योंकि 1 हजार की बजाय आपको 5000 रुपए भरने होंगे. बेशक आपके चचा विधायक ही क्यों न हो.

कोई भी रास्ता साफ नजर नहीं आ रहा है. पहले ज्यादा जुर्माना न होने की वजह से लोग ट्रैफिक नियमों का पालन करने से कतराते हैं, लेकिन अब फाइन ज्यादा बढ़ जाने से लोग ट्रैफिक नियम तोड़ने से पहले डरेंगे.

About the author

Tarun Phore

न मैं आस्तिक... न मैं नास्तिक...बातें करूं मैं Sarcastic...अपनी अलग दुनिया में मस्त... सवाल पूछना अच्छा लगता है, इसलिए नहीं पत्रकार हूं...इसलिए क्योंकि सवाल तुम्हें भेड़चाल से अलग बनाते है...तभी मैं हर मुद्दे पर बेबाक तरीके से तर्क रखता हूं...बाकि जजमेंटल बिल्कुल नहीं हूं...सोच को दबाता नहीं बल्कि उठाता हूं.

Follow

Advertisement

Log in

Forgot password?

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy