Observed Policies/Schemes

प्रधानमंत्री किसान पेंशन स्कीम: किसानों को होगा लाभ- ये शर्तें, यहां होगा रजिस्ट्रेशन! ये लगेंगे डॉक्यूमेंट्स!

अक्सर अपने दमदार फैसलों से चौंकाने वाले पीएम मोदी. 15 अगस्त को एक बार फिर से बड़ी घोषणा करने वाले है. बतादें कि इस बार ऐलान देश के अन्नदाताओं के लिए किया जाएगा. कृषि राज्य सचिव ने राज्यों को प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना को लागू करने के लिए मैकेनिज्म तैयार करने के निर्देश दिए हैं. इस योजना के तहत अन्नदाताओं को हर महीने 3000 रुपए की पेंशन मिलेगी.

इस स्कीम का फायदा 12-13 करोड़ किसानों को होगा.योजना को कई चरणों में लागू किए जाने की तैयारी की जा रही है. पहले चरण में 5 करोड़ किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा. वहीं जिसमें 18 से 40 साल तक के किसानों को इस योजना से जोड़ा जाएगा. उनके 60 साल पूरे होने के बाद उन्हें हर महीने 3000 रुपए पेंशन के तौर पर मिलेंगे. इससे किसानों की आगे की जिंदगी काफी आसान हो जाएगी. और सरकारी खजाने पर 10,775 करोड़ सालाना बोझ पड़ेगा.

हम आपको बताएंगे कि आप इस स्कीम के साथ कैसे जुड़ सकते हैं.

रजिस्ट्रेशन के लिए चाहिए ये देस्तावेज

आधार कार्ड

– जमीन रिकॉर्ड

– बैंक पासबुक

– राशन कार्ड

– 2 फोटो

– कृषि विभाग के अधिकारी के मुताबिक, किसान कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए पेंशन स्कीम में रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.साथ ही किसान अपने लेखपाल और कृषि अधिकारी से भी बात कर सकते हैं.

वित्त मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक इस स्कीम में राज्य सरकारों का पूरा सहयोग लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्यों से कहा गया है कि वे ज्यादा  ज्यादा किसानों को इसका लाभ पहुंचाने के लिए सहयोग दें. जहां तक इस योजना में वित्त संबंधी तकनीकी बातें हैं, उस बारे में सहमति बन गई है. केंद्र सरकार ही इसका पूरा जिम्मा अपने कंधों पर लेगी. राज्य सरकारों पर किसी भी प्रकार का वित्तीय बोझ नहीं डाला जाएगा.

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि एनडीए सरकार पूरी निष्ठा के साथ किसानों के हितों की रक्षा करने और उनकी आमदनी बढ़ाने के लिए काम कर रही है. ये सिलसिला आगे भी जारी रहेगा.

Follow